भूखी गइया करे पुकार, नहीं सहेंगे अत्याचार

गो-धन ही मनुष्य का जीवन है,गौ सेवा से बढ़कर कोई दूसरा
धर्म नहीं है। क्योंकि गाय जगत की माता है,इसलिए तो गाय
विश्व वन्दनीय है। एक गाय की नित्य सेवा करने से हमारे माता
पिता एक बर्ष तक स्वर्ग में रहकर सुख भोगते हैं। दो(2) गाय
की सेवा निरन्तर करने से हमारे माता पिता एवं दादा-दादी(2)
दो बर्ष तक स्वर्ग में रहकर सुख भोगते हैं।और तीन गायों की
तीन बर्ष तक नित्य सेवा कराने से माता-पिता एवं दादा-दादी
तथा परदादा-परदादी तीन बर्ष तक स्वर्ग में रहकर सुख भोगते हैं।।

इसलिए गाय की नित्य सेवा परमावश्यक है।।

Come & GauSeva

गौ सेवा

गाय की सेवा से दुर्भाग्य को
सौभाग्य में बदला जा सकता है

–ज्योतिषाचार्य पचौरी गुरुजी–

Screenshot (283)
Screenshot (266)
Pachauri guruji
Founder